धामी ने खूब की थी मेहनत और प्रयास रात दिन कर दिए थे एक खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

telemedicine

मुख्यमंत्री धामी का बचपन से देखा हुआ सपना हो रहा है साकार खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

बोल खटीमा धन्यवाद धामी जी : आगामी शिक्षा सत्र से यहां कक्षाओं का संचालन शुरू हो सकता है ये उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय होगा

धामी ने खूब की थी मेहनत और प्रयास रात दिन कर दिए थे एक
खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

धामी जब खटीमा में 2012 में विधायक के रूप में चुने गए थे तब से वे लगातार प्रयास कर रहे थे खटीमा में होगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी आपका धन्यवाद आपके प्रयासों से मिली खटीमा को बड़ी सौगात(उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय)

धामी की ये मेहनत 2014 में मोदी की पहली सरकार मे लाई थी रंग,अब
खटीमा में खुलने जा रहा है उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

आज आ गई बड़ी खबर खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

मुख्यमंत्री धामी की 14 सालों की मेहनत लाई रंग खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय…

मुख्यमंत्री धामी के प्रयास से ही हो पाया संभव :सीमांत क्षेत्र खटीमा में उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय खुलने जा रहा है

मुख्यमंत्री धामी के मन में बचपन से था खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय
अब एक से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी..

धामी जी ने जो कहा वह कर दिखाया : खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

धामी है तो मुमकिन है : खटीमा में जल्द खुलेगा उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय

सीमांत क्षेत्र खटीमा में उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय खुलने जा रहा है। कार्यदायी संस्था केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्लूडी) 30 अप्रैल 2024 को विद्यालय का भवन हैंडओवर कर देगा। इसके बाद यहां एक से 12वीं तक की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी..
I
लेकिन उससे पहले यह जानिए कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बचपन से यह सपना देखा था, उनके मन मे था कि खटीमा में एक केंद्रीय विद्यालय होना चाहिए… मुख्यमंत्री धामी जब खटीमा में 2012 में विधायक के रूप में चुने गए थे तब से वे लगातार प्रयास कर रहे थे….उस दौरान कई चुनौतियो के बाद भी धामी ने हार नहीं मानी… और वह अपने बचपन के देखे हुए सपने को पूरा करने के लिए संकल्प लेकर काम कर रहे थे…. और धामी की ये मेहनत रंग लाई 2014 में मोदी की सरकार केंद्रीय में आई.. और स्वीकृति मिली…… बिजली की बड़ी हाई टेंशन लाइनों को भी वहां से हटाया गया..

बतादे खटीमा में साल 2019 से अस्थायी रूप से बंडिया गांव में जीआईसी के पुराने भवन में केंद्रीय विद्यालय संचालित हो रहा है जहां पर वर्तमान में कक्षा छह से नवीं तक के करीब 350 बच्चे अध्ययनरत हैं। अब शीघ्र ही केंद्रीय विद्यालय को अपना भवन मिल जायेगा..
खटीमा में लगभग 38 करोड़ रुपये के बजट से निर्माणाधीन केंद्रीय विद्यालय के भवन का निर्माण कार्यदायी संस्था केंद्रीय लोक निर्माण विभाग को 30 अप्रैल 2024 तक पूरा करना है
केंद्रीय विद्यालय का निर्माण कार्य जनवरी 2023 से शुरू हुआ था, जिसे तय तिथि तक पूरा करने के लिए युद्वस्तर पर कार्य किया जा रहा है।

करीब छह एकड़ में बन रहे केंद्रीय विद्यालय में विद्यार्थियों के खेलने के लिए विशाल खेल मैदान के साथ ही अध्यापकों के लिए आवासीय सुविधा भी होगी। विद्यालय का लगभग 80 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है।..
और आगामी शिक्षा सत्र से यहां कक्षाओं का संचालन शुरू हो सकता है.. बता दे कि केंद्रीय विद्यालय सिविल सेक्टर में खुल रहा है, जो कि उत्तराखंड का सबसे बड़ा केंद्रीय विद्यालय होगा।

केंद्रीय विद्यालय खुलने से खटीमा के बच्चों को भी गुणवत्ता युक्त शिक्षा मिल सकेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी आपका धन्यवाद … आपके प्रयासों से मिली खटीमा को बड़ी सौगात…
आप सभी खटीमा वासियो को बहुत-बहुत शुभकामनाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here