सबसे बड़ी ख़बर.. विवादों में रहने वाले उत्तराखंड के मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी! कामकाज के आधार पर ही मिलेगा अब की बार लोकसभा का टिकट…

telemedicine

सबसे बड़ी ख़बर.. विवादों में रहने वाले उत्तराखंड के मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी! कामकाज के आधार पर ही मिलेगा अब की बार लोकसभा का टिकट…

 

देश का सबसे बड़ा राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट चुका है और सूत्र बोल रहे है कि भाजपा केंद्रीय टीम से लेकर सभी राज्यों में जरूरी बदलाव तय माना जा रहा है
इस बदलाव की रूपरेखा तैयार करने के लिए पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा की गृह मंत्री अमित शाह और संगठन महासचिव बीएल संतोष के साथ कई दौर की बैठक भी हो चुकी है
पार्टी सूत्रों का कहना है कि एक महीने के अंदर केंद्रीय मंत्रिमंडल के साथ कुछ राज्यों में मंत्रिमंडल विस्तार को अमलीजामा पहनाया जाना है। इसके अलावा केंद्रीय संगठन में भी खाली पद भरे जाने के साथ व्यापक फेरबदल किया जाना है।
पार्टी सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में कई राज्यों के प्रभारियों के बदलाव पर सहमति बनी तो कही राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष को भी बदलने पर सहमति बनी है..

वही सूत्र बताते हैं देवभूमि उत्तराखंड में भी जुलाई माह में मंत्रिमंडल विस्तार होने की पूरी संभावना है
सूत्रों की माने तो दिल्ली में हुई महत्वपूर्ण बैठकों में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर भी चर्चा हुई है
माना जा रहा है कि महाजनसंपर्क अभियान के बाद उत्तराखंड सरकार के मंत्री मंडल में बडा फेरबदल हो सकता है साथ ही संगठन में भी कुछ परिवर्तन हो सकते है। दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष के मध्य दो दिनों तक हुई लंबी मैराथन बैठक के बाद देश के अलग अलग राज्यों के साथ साथ उत्तराखंड कैबिनेट का विषय चर्चा में आया है
बता दे कि उत्तराखंड में कैबिनेट मंत्री रैंक के तीन पद खाली है ज्बकि एक कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास के निधन के बाद अब कैबिनेट मेंं कुल चार सीटें रिक्त हो गई है

सूत्र यह भी कहते हैं भाजपा हाईकमान के पास… उत्तराखंड के सभी मंत्रियों के कामकाज का रिपोर्ट कार्ड है .. जिसमें सतपाल महाराज, सुबोध उनियाल, रेखा आर्य , सौरभ बहुगुणा, धन सिंह रावत , गणेश जोशी के नाम है…
और सूत्र कहते है कि भाजपा… विवादित… नाम… वाले मंत्रियों से… किनारा करते हुए… उनकी जगह नए चेहरों पर दांव खेल सकती है……और यह भी हो सकता है कि… जिस कैबिनेट मंत्री का काम और छवि साफ हो… उसको… लोकसभा के मैदान में भी उतार सकती है….
लेकिन विवादों में रहने वाले कैबिनेट मंत्रियों का जाना लगभग तय माना जा रहा है
वही उत्तराखंड में भी भाजपा
लोकसभा की सभी पांच सीटों पर विजय श्री हासिल करने के लिये भाजपा हाईकमान . अब तक पांचो सांसदों के कामकाज को भी खंगाल..चुका है..

और अबकी बार जनता के बीच सांसद की लोकप्रियता… उसका अब तक कामकाज, व्यवहार….. फिर उसको टिकट देते समय मायने रखने वाला है….
यदि कोई सांसद.. भाजपा हाईकमान की.. नजरिया में खरा नहीं उतरता तो उसका टिकट कटना भी तय है …ऐसे में लोकसभा के लिए उत्तराखंड में नए चेहरे पर भरोसा कर टिकट देने का भी मन लगभग भाजपा हाईकमान बना चुका होगा…
लेकिन कहते हैं ये भाजपा है… ये अंतिम समय पर… अपने आंकलन के अनुसार … कुछ ऐसा एक्सपेरिमेंट कर देती है जिसका अंदाजा लगाना मुश्किल होता है….
लेकिन इन सबके बीच… यह बात तो साफ है कि… उत्तराखंड के अंदर… आगामी दिनों में कैबिनेट मंत्री के पद पर वही नजर आएगा जिसका काम काज हाईकमान को पसंद आया होगा…
नए मंत्री भी वही बनेंगे . जिनके अब तक के कामकाज,व्यवहार और अपने क्षेत्र में उनकी लोकप्रियता का ग्राफ ठीक-ठाक हो….
तो चलिए करते हैं इंतजार जुलाई नजदीक है….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here