श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय “दीक्षारंभ” कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ,विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री महंत देवेंद्र दास जी महाराज ने सभी छात्र-छात्राओं को शुभकामना संदेश प्रेषित किया।

telemedicine

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय “दीक्षारंभ” कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ,विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री महंत देवेंद्र दास जी महाराज ने सभी छात्र-छात्राओं को शुभकामना संदेश प्रेषित किया।

पहले दिन स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड कॉमर्स स्टडीज के साथ स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर साइंस, स्कूल ऑफ योगा एंड नेचरोपैथी के नव प्रवेशी छात्रों का स्वागत किया गया  

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय “दीक्षारंभ” कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ नव प्रवेशी छात्रों के लिए आयोजित किया गया दीक्षारंभ कार्यक्रम

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय “दीक्षारंभ” कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ, बोले कुलपति 

समाज हित में हो छात्रों का आचरण

देहरादून।

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय देहरादून में नव प्रवेशी छात्र-छात्राओं हेतु मेडिकल कॉलेज सभागार में तीन दिवसीय “दीक्षारंभ कार्यक्रम” का विधिवत शुभारंभ हो गया है, यह कार्यक्रम आगामी 5 अगस्त तक चलेगा।

कार्यक्रम के पहले दिन विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री महंत देवेंद्र दास जी महाराज ने सभी छात्र-छात्राओं को शुभकामना संदेश प्रेषित किया। दीक्षारंभ कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना की प्रस्तुति साथ की गई।  पहले दिन स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड कॉमर्स स्टडीज के साथ स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर साइंस, स्कूल ऑफ योगा एंड नेचरोपैथी के नव प्रवेशी छात्रों का स्वागत किया गया 

इस अवसर पर छात्रों के मनोरंजन के लिए  गढ़वाली और कुमाऊंनी लोकनृत्य, गीत, संगीत के साथ ही नाट्य प्रस्तुति दी गई।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर (डॉ.) यशवीर दिवान ने बतौर मुख्य अतिथि छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय में छात्रों के विकास के लिए विभिन्न पाठ्यक्रम चलाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि छात्रों के हित में कई नीतियां बनाई गई है जिन से छात्र लाभान्वित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि छात्रों का हित ही विश्वविद्यालय की प्राथमिकता है और छात्रों को समाज के विकास में कैसे भागीदार बनाया जाए और उनके आचरण को विकसित करने के लिए विश्वविद्यालय के मैदान फैकल्टी सदस्य सदैव तत्पर रहते हैं।  उन्होंने बताया कि श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय एक ऐसा विश्वविद्यालय है जहां पर एक तरफ छात्र मेडिकल और नर्सिंग के साथ ही पैरामेडिकल के कोर्स कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कृषि, मानविकी और शिक्षा विभाग भी सफलतापूर्वक संचालित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में इस प्रकार के समन्वयक वातावरण के कारण छात्रों का चहुँमुखी विकास हो सकता है। उन्होंने छात्रों को सही आचरण बनाए रखने के लिए अच्छी पुस्तकें पढ़ने और आज के प्रतियोगी युग में जीतने के लिए ज्ञान बढ़ाने की भी सलाह दी।

 

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. अजय कुमार खंडूड़ी ने छात्रों को विश्वविद्यालय के शैक्षिक पाठ्यक्रम के साथ-साथ प्रशासनिक जानकारी भी दी। उन्होंने छात्र हित में चलाई जा रही सभी समितियों और गतिविधियों का विस्तार से वर्णन किया। 

विश्वविद्यालय के डीन एकेडमिक्स डॉ. कुमुद सकलानी ने नए छात्रों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में पर विश्वविद्यालय समन्वयक डॉ आर.पी. सिंह ने छात्रों को सफल होने के लिए मेहनत का मूल मंत्र दिया। 

विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक प्रोफ़ेसर संजय शर्मा नए नए छात्रों को परीक्षा की बारीकियों से अवगत कराया। 

इस अवसर पर एसजीआरआर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के मनोचिकित्सक विभाग के प्रमुख डॉ शोभित गर्ग ने छात्रों को से नो टू स्मोकिंग और ड्रग्स का स्लोगन देकर उन्हें भविष्य में नशे से दूर रहने की प्रेरणा दी। 

 

 

दीक्षारंभ कार्यक्रम के प्रथम और द्वितीय सत्र में स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड कॉमर्स स्टडीज के डीन प्रोफेसर पूजा जैन के साथ ही स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर साइंसेज की डीन प्रोफेसर प्रियंका बनकोटी और स्कूल ऑफ योगिक साइंसेज और नेचुरोपैथी की डीन प्रोफेसर सरस्वती काला ने उपस्थित छात्रों को अपने-अपने विभाग की जानकारी दी।

इस अवसर पर नए छात्रों से विश्वविद्यालय में अपने अनुभव साझा करने के लिए विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र सम्मिलित हुए जिनमें योग विभाग से 2022 बैच की छात्रा मधुमति और 2020 की छात्रा किरण ने छात्रों को योग से उनके जीवन में हुए परिवर्तन और श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के सहयोग के विषय में बात की। 

एग्रीकल्चर साइंस के पूर्व मेधावी छात्र आशीष राणा ने श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय से कृषि में स्नातक करने के बाद अन्य छात्रों को भी रोजगार देने की अपनी विकास यात्रा छात्रों  के साथ साझा की। 

धन्यवाद प्रस्ताव विश्व विद्यालय की डीन एकेडमिक्स डॉ (प्रो.) कुमुद सकलानी द्वारा दिया गया। मंच संचालन डॉ श्रेया कोटनाला और तान्या सहगल के साथ ही इशिता और सागर बाजपेई  द्वारा किया गया।

इस अवसर पर डीन रिसर्च डॉ लोकेश गंभीर, डॉ मालविका कांडपाल, डॉ प्रिया पांडे, डॉ कनिका रावत समेत विभिन्न स्कूलों के सभी शिक्षक गण एवं नव प्रवेशी छात्र छात्राएं मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here