उत्तराखंड: दो मासूमों के सामने मां को रौंद गया डंपर, गोद में बैठे 10 माह के बच्चे को ऐसे बचा गई मां…

telemedicine

उत्तराखंड: दो मासूमों के सामने मां को रौंद गया डंपर, गोद में बैठे 10 माह के बच्चे को ऐसे बचा गई मां…

हल्द्वानी में आए दिन सड़क हादसों में दो अपनी जान गवा रहे हैं एक और दर्दनाक सड़क हादसे में एक परिवार की खुशियां पल भर में गम में तब्दील हो गई।  जहां एक डंपर ने दो मासूम बच्चों को सामने उनकी मां को रौंद डाला। इसके बाद डंपर चालक फरार हो गया। हादसे के दौरान मां की गोद में 10 माह का बच्चा था जिसे मां ने सुरक्षित बचा लिया लेकिन अपनी जान दे दी। हादसे के बाद मंजर देख लोगों की आंखू से आंसू छलक पड़े।

 

जानकारी के मुताबिक घटना आरटीओ रोड के पास हुई यहां मूल रूप से थाना नवाबगंज बरेली का रहने वाला किशनपाल लामाचौड़ में किराए के मकान में परिवार सहित रहता है और वह पोल्ट्री फार्म पर काम करता है। रविवार को किशन के भाई जो भी रुद्रपुर में रहता है उसकी तबीयत खराब थी लिहाजा किशन बाइक से अपनी पत्नी निर्मला देवी और 3 साल की बेटी सुनैना और 10 महीने के बेटे देव को लेकर रुद्रपुर भाई का हाल-चाल जानने गए थे।

रुद्रपुर से आते समय जब वापस लौट रहे थे तो घर से कुछ दूर पहले आरटीओ कार्यालय के पास सामने से तेज गति से आ रहे एक डंपर ने बाइक को टक्कर मार दी हादसे के दौरान बाइक से गिरते ही  तीन साल की बेटी सुनैना घायल हो गई जिसे अस्पताल ले जाया गया ओर निर्मला ने गोद में बैठे अपने 10 माह के बेटे को झाडिय़ों की ओर फेंक दिया, जिससे उसकी जान बच गई। लेकिन डंपर निर्मला को रौंद कर आगे बढ़ गया। किशन पाल ने बताया  कि डंपर के सामने आते ही मैंने बाइक सडक़ से नीचे उतार ली थी, लेकिन पत्नी को नहीं बचा सका। लेकिन बच्चे की जान बचाने को निर्मला ने खुद को मौत के मुंह में झोक दिया कहकर वह फफक पड़ा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here