ग्राम्य विकास मंत्री ने मुख्यमंत्री धामी को कहा धन्यवाद, इन सड़कों के बनने से स्थानीय ग्रामीणों को हर मौसम में बेहतर यातायात की सुविधा मिल सकेगी

telemedicine

ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने प्रदेश के कई जिलों में “मेरा गांव मेरी सड़क योजना” के तहत 24 सड़कों की योजनाओं की दी स्वीकृति.

मेरा गांव मेरी सड़क योजना के तहत सम्पर्क विहीन गांव जुड़ेंगे मुख्य मार्ग से प्रदेश में बनेगी 24 नई सड़के : जोशी

“मेरा गांव मेरी सड़क योजना” में 24 सड़क की योजनाओं को मिली स्वीकृति, इससे पूर्व इस योजना में 37 सड़क मार्ग स्वीकृत किये जा चुके हैं: जोशी

ग्राम्य विकास मंत्री ने मुख्यमंत्री धामी को कहा धन्यवाद, इन सड़कों के बनने से स्थानीय ग्रामीणों को हर मौसम में बेहतर यातायात की सुविधा मिल सकेगी

सुबे के ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने प्रदेश के कई जिलों में “मेरा गांव मेरी सड़क योजना” में 24 सड़क की योजनाओं को स्वीकृति दी है। इससे पूर्व इस वित्तीय वर्ष में इस योजना में 37 सड़क मार्ग स्वीकृत किये जा चुके हैं, जिसे सम्मिलित करते हुए इस वित्तीय वर्ष में अब तक 61 गांव को सड़क मार्ग से जोड़े जाने की मंजूरी दी जा चुकी है। विगत वर्ष इस योजना में 49 गांव के लिए सड़कें स्वीकृत की गयी थीं। जिन पर कार्य प्रारम्भ किया जा चुका है।
ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने कहा लोक निर्माण विभाग और प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की परिधि से बाहर सम्पर्कविहीन गांवों को सड़क से जोड़ने की दिशा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में राज्य सरकार ग्रामीण अंचलों के सर्वांगीण विकास के लिए निरंतर प्रयासरत हैं। ग्राम्य विकास मंत्री ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का धन्यवाद भी ज्ञापित किया है। उन्होंने कहा कि इन सड़कों के बनने से स्थानीय ग्रामीणों को हर मौसम में बेहतर यातायात की सुविधा मिल सकेगी। मेरा गांव मेरी सड़क योजना में मुख्य सडक़ से एक किमी की दूरी पर स्थित संपर्क विहीन गांवों की सार्वमौसम सम्पर्कता के लिए सड़के बनाई जाती है।
ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने कहा इस योजना से गांव वासियो को सभी मौसमों में आवागमन के लिए संपर्क मार्ग उपलब्ध होने के साथ-साथ स्थानीय उपज को बाजार तक लाने की सुविधा होगी। जिससे कृषकों की आय में वृद्धि होगी तथा प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष अन्य रोजगार के साधन भी विकसित होंगे। उन्होंने कहा गांवों को आधारभूत सुविधायें उपलब्ध कराने के लिए सभी सम्भव प्रयास किये जायेंगे।

प्रदेश के विभिन्न विकासखण्डों की 24 सड़कें, जिनके निर्माण की स्वीकृति प्रदान हुई है, निम्नवत हैं-

अल्मोड़ा धौलादेवी / चेलछीना से काना दोड़म महरकाना पलोली तक।

देहरादून कालसी ग्राम पंचायत दिलउ के अन्तर्गत मुख्य मोटरमार्ग दैखईलान से भको ईला खेड़ा तक। देहरादून कालसी ग्राम पंचायत डिमउ के मुख्य मोटर मार्ग से कफाणी बस्ती तक। देहरादून कालसी क्वानु हष्टी मिनस मोटर मार्ग से प्राथमिक विद्यालय कांडोई जामुवा तक।देहरादून चकराता के ग्राम पंचायत कुल्हा के अन्तर्गत अपर कुल्हा से बगिया तक।

ग्राम भागीरथी नगर व ग्राम खाड़ गांव को जोड़ती हुई कच्ची सड़क को सी०सी० सडक निर्माण कार्य। लक्सर / ग्राम पंचायत अको ढाकला से खेड़ी कलां मध्य सी०सी० सड़क निर्माण कार्य। लक्सर के ग्राम पंचायत कुआंखेड़ से ढाढेकी ढाणा के मध्य तटबंध के नीचे वाले मार्ग पर सी०सी० सड़क निर्माण। लक्सर के ग्राम रायसी से हबीबपुर कुडी तक। लक्सर के ग्राम निरंजनपुर मे केवलपुरी से शिवपुरी तक। लक्सर के ग्राम बुक्कनपुर से ऐथल बुजुर्ग तक। लक्सर के ग्राम खानपुर से रणजीतपुर की ओर सी०सी० सड़क निर्माण। रुड़की के ग्राम पंचायत नन्हेड़ा अन्नतपुर में ग्राम रूहालकी तक। रुड़की के ग्राम पंचायत माधोपुर अरबी- हजरतपुर की ओर मदरसे से सरकड़ी गांव की ओर सी०सी० सड़क निर्माण। रुड़की के ग्राम पंचायत किशनजम जमालपुर से कलालहट गांव को जोड़ने वाली सी०सी० सड़क निर्माण। खानपुर के ग्राम कान्हेवाली राय सिंह से ग्राम भोवाली के मध्य। खानपुर के ग्राम पंचायत कान्हेवाली में भोवावाली से पोड़ोवाली की ओर सी०सी० सड़क निर्माण।

*उत्तरकाशी* डुण्डा/ ग्राम सभा सिरी के सड़क से पाल्या धौंतरी तक सड़क निर्माण। नौगांव के मोटर रोड़ से गोदिन गांव तक। नौगांव मोटर रोड़ से कण्डारी गांव बस्ती तक। नौगांव खमुण्डी मल्ली में मोटर मार्ग से थाता गांव तक सड़क निर्माण। नौगांव के ग्राम पंचायत रिखाउ मोटर रोड़ से सुराणा तक। पुरोला के रामावेष्टी मोटर मार्ग से पल्ली वेष्टी तक मोटर मार्ग निर्माण कार्य। पुरोला के पोरा में मोटर मार्ग निर्माण।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here