मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल का औचक निरीक्षण : निर्माण कार्य के धीमी कार्यप्रणाली पर नाराजगी जताई, मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उच्चाधिकारियों को निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए

telemedicine

मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल का  औचक निरीक्षण : निर्माण कार्य के धीमी कार्यप्रणाली पर नाराजगी जताई, मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उच्चाधिकारियों को निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए

शहरी विकास व आवास मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने इंदिरा मार्केट पुनर्विकास परियोजना का आज औचक निरीक्षण किया। इस दौरान निर्माण कार्य के धीमी कार्यप्रणाली पर उन्होंने नाराजगी जताई। मौके पर मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उच्चाधिकारियों को निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

शुक्रवार को मंत्री डॉ अग्रवाल इंदिरा मार्केट पुनर्विकास परियोजना के निर्माण कार्य को प्रगति जानने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पाया कि प्रथम चरण के अंतर्गत बेसमेंट हेतु डी-वाल का कार्य पूर्ण करते हुए बेसमेंट की खुदाई का कार्य गतिमान है। डॉ अग्रवाल ने परियोजना के 09 माह पूर्व शिलान्यास होने के उपरांत प्रथम चरण के अंतर्गत 15  प्रतिशत ही कार्य होने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कार्यों को गति प्रदान करते हुए समय से पूर्ण किये जाने के निर्देश दिए।

डॉ अग्रवाल ने बताया कि इंदिरा मार्केट/ टैक्सी स्टैंड की नजूल भूमि (क्षेत्रफल 16558 वर्ग मीटर) पर अव्यवस्थित रूप से विकसित बाजार है। जो की देहरादून शहर के  मुख्य बाजारों में से एक है, को सुनियोजित रूप से विकसित किये जाने हेतु MDDA  द्वारा प्रभावित दुकानदारों से संवाद स्थापित करते हुए पीपीपी मोड के अंतर्गत इंदिरा मार्केट पुनर्विकास परियोजना का कार्य किया जा रहा है।

 

डॉ अग्रवाल ने बताया कि परियोजना से 400 से अधिक दुकानदार लाभान्वित होंगे, जिन्हें परियोजना के अंतर्गत आधुनिक सुविधाओं से युक्त सुव्यवस्थित दुकानों का आवंटन किया जायेगा। बताया कि परियोजना के अंतर्गत दुकानों के अतिरिक्त लिफ्ट, शौचालय, पार्किंग, ग्रीन एरिया एवं अन्य मूलभूत सुविधाओं का भी विकास किया जाना है। बताया कि परियोजना की लागत 242.32 करोड़ है।

 

डॉ अग्रवाल ने बताया कि इसी परियोजना में देहरादून शहर की पार्किंग की समस्या को ध्यान में रखते हुए तीन बेसमेंट के माध्यम से 1050 वाहनों की पार्किंग भी बनाई जाएगी। 

 

इस मौके पर एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी, सचिव मोहन सिंह बर्निया, प्रोजेक्ट मैनेजर अमन सैनी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here